बुधवार, 18 जनवरी 2017

अब आपका आधार बनेगा यूनिवर्सल पेमेंट आईडी

    ढेरो सेवाओं को पहले ही आधार के साथ लिंक कर चुकी सरकार अब इसकी महत्ता को और बढ़ाने जा रही है, अब आपका आधार कार्ड यूनिवर्सल पेमेंट आईडी बनने जा रहा है. 
     डिजिटल ट्रांसैक्शन को आसान बनाने के लिए भीम एप पेश कर चुकी सरकार जल्द ही इस एप में एक ऐसे फीचर को पेश करने जा रही है जिसमें आप अपने 12 डिजिट के आधार नंबर को डालकर लेन देन कर सकते हैं।
      भीम ऐप के जिन लेन-देन में आधार को पेमेंट आईडी के रूप में लिस्टेड किया गया है, उनमें किसी भी बायोमीट्रिक ऑथेंटिकेशन, बैंक के साथ रजिस्ट्रेशन या यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) की जरूरत नहीं होगी। इससे यह मुख्यधारा में शामिल हो जाएगा क्योंकि करीब-करीब एक तिहाई देश पहले से ही आधार नंबर का इस्तेमाल कर रहा है, जिसे बैंक एकाउंट से लिंक कर दिया गया है।
     वर्तमान में यूनीक आईडेंटिफिकेशन ऑफ इंडिया (UIDAI) बैंकों और नेशनल पेमेंट कार्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के साथ मिलकर काम कर रहा है। यूआईडीएआई के चीफ एक्जिक्यूटिव अजय भूषण पांडेय ने बताया कि करीब 38 करोड़ लोगों ने पहले ही अपने बैंक खातों को आधार के साथ जोड़ दिया है।
     भीम एप पर अपने आप अपने दोस्तों, दूर बैठे परिवार के लोगों और उपभोगताओं को भी भेज सकते हैं। भीम एप पर सभी ट्रांजेक्शन रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर यानि की पेमेंट ऐड्रेस पर भेजा जा सकता है। आप बिना यूपीआइ सुविधा वाले बैंकों में भी पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं। उसके लिए आप एमएमआइडी और आइएफएससी सुविधा की मदद ले सकते हैं। आप किसी अन्य रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या यूजर से पैसा प्राप्त करने के लिए रिकवेस्ट भी भेज सकते हैं। 
        भीम एप के साथ बैंक खाते को लिंक करके खरीददारी या किसी तरह का लेन-देन कर सकते हैं और सीधे अपने खाते में पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं। लोग यूपीआइ एप के जरिये रजिस्ट्रेशन किए बिना ही सीधे पेमेंट ले सकते हैं। भीम ऐप के जरिये किसी मोबाइल नंबर पर पैसे भेजे जा सकते हैं। इसके लिए रिसीवर को यूपीआइ के साथ रजिस्टर्ड करना होगा।
Previous Post
Next Post

0 comments: