मंगलवार, 7 फ़रवरी 2017

सब कुछ जानती है फेसबुक आपके बारे में! जानिए कैसे?

      जी हाँ दोस्तों से जुड़ने से लेकर बिज़नेस के प्रमोशन तक के लिए आजकल फेसबुक का प्रयोग धड़ल्ले से किया जा रहा है. कई लोग तो आजकल पूरे दिन फेसबुक पर ऑनलाइन ही बने रहते हैं, फेसबुक लाइक के चक्कर में कितने लोग अपनी मेहनत की कमाई गवा बैठे यह तो आप आजकल टीवी पर देख ही रहे हैं. 
 निश्चित रूप से फेसबुक हमारे दोस्तों, परिवार और बिज़नेस आदि के दायरे को विस्तृत करती है पर क्या आपने कभी सोचा है की फेसबुक आपकी हर ऑनलाइन गतिविधि को ट्रैक करती है? आप नेट पर क्या सर्च करते हैं, क्या देखते हैं फेसबुक को सब पता रहता है!
      भरोसा न हो तो इलेट्रॉनिक्स के बारे में सर्च करके देखिये फेसबुक आपको इलेट्रॉनिक्स से सम्बंधित विज्ञापन दिखाना शुरू कर देगी। अगर आप सौंदर्य उत्पादों को सर्च करते है तो आपको इससे जुड़े उत्पादों के विज्ञापन दिखने लगेंगे। यानि आप जो ऑनलाइन करते हैं, देखते हैं फेसबुक सबको ट्रैक करती है ताकि आपकी रुचियों, शौकों का पता लगाया जा सके. 
    फेसबुक ज्वाइन करने के साथ ही आप फेसबुक को अपनी ऐक्टिविटी ट्रैक करने की इजाजत दे देते हैं। फेसबुक आपकी ऐक्टिविटी इसलिए ट्रैक करती है, ताकि आपकी पसंद-नापसंद का पता लगाकर उस हिसाब से विज्ञापन दिखाए जा सकें।
कैसे पता लगाती है फेसबुक आपके बारे में?
फेसबुक तीन तरीकों से आपके बारे में जानकारी जुटाती है:
1. जो जानकारी आप सीधे देते हैं। जैसे कि नाम, उम्र, शादी हुई है या नहीं, कहां रहते हैं, कहां काम करते हैं वगैरह।
2. आप फेसबुक पर क्या करते हैं। जैसे कि आपने कौन से पेज लाइक किए हैं, किन ग्रुप्स में आप हैं और किस तरह के फोटो और लिंक आपने शेयर किए हैं या किनपर क्लिक किया है।
3. फेसबुक के अलावा आप बाकी इंटरनेट पर क्या करते हैं। फेसबुक कुकीज़ या इसी तरह की टेक्नॉलजी के जरिए पता लगाती है कि आपने क्या सर्फ किया है। फेसबुक इन कुकीज़ को पढ़कर उस इन्फर्मेशन के हिसाब अपनी और अन्य वेबसाइट्स पर ऐड दिखाती है।
क्या बच सकते हैं इससे ?
    अगर आपको फेसबुक पर विज्ञापनों से मुक्ति चाहिए तो आपको फेसबुक से ही मुक्ति पानी होगी। फिर भी आप यह तय कर सकते है कि फेसबुक आपको क्या-क्या ऐड दिखाए। इसके अलावा आप बाकी इंटरनेट पर क्या करते हैं, यह जानकारी भी आप फेसबुक से छिपा सकते हैं। 
कैसे किया जा सकता है यह काम?
     जो जानकारियां आपने खुद शेयर की हुई हैं, उनके बारे में तो आपको पता ही है। मगर फेसबुक आपके बारे में क्या जानकारी रखती है, यह जानने के लिए आपको Ad Preferences नाम का टूल ढूंढना होगा। यह टूल ढूंढना आसान नहीं है। इसके लिए आपको आगे के स्टेप्स बड़े ध्यान से फॉलो करने होंगे।
 1. फेसबुक की न्यूज़ फीड में जाइए। राइट साइड कॉलम में दिख रहे किसी भी ऐड (विज्ञापन) के ऊपर माउस का कर्सर ले जाइए या फिर आप अपनी न्यूज़ स्ट्रीम के बीच दिख रहे किसी विज्ञापन पर जाइए और एक छोटा सा तीर (लाल घेरे में) का निशान ढूंढिए और उसपर क्लिक कीजिए।
  क्लिक करने पर आपको दिखेगा "Why am I seeing this?" इसका मतलब हुआ कि मुझे यह क्यों दिख रहा है। इस पर क्लिक करें।
 यहीं पर आपको Ad Preferences पेज का लिंक मिलेगा। Manage Your Ad Preferences पर क्लिक करें। 

क्लिक करते ही आपके सामने इस तरह की विंडो ओपन हो जाएगी। इससे एक लिस्ट आ जाएगी। हर एंट्री के नीचे आपके द्वारा लाइक की गई चीज़ें और कुछ कैटिगरीज़ होंगी। इसी से आपके दिखने वाले ऐड प्रभावित होते हैं। यहां आप फेसबुक को बता सकते हैं कि किसी खास ऐडवर्टाइज़र के ऐड्स दिखाना बंद कर दे। 
     लेकिन इसका मतलब यह कतई नहीं होगा कि फेसबुक आपको ऐड दिखाना ही बंद कर देगा या कम कर देगा। इससे यह बदलाव जरूर होगा कि वह आपको और ज्यादा प्रासंगिक ऐड दिखा पाएगा, जो आपके मतलब के हों।

उदाहरण के लिए मेरी प्रोफाइल में "Technology" पर क्लिक करने पर "स्मार्ट फ़ोन, वेब होस्टिंग" जैसी कई लिस्टिंग है क्योंकि मैंने इनके बारे के सर्च किया यह पढ़ा. यदि आप इनमे से किसी को डिलीट करना चाहते हैं तो क्रोस पर क्लिक कर दें.




















   लेकिन इसके बावजूद आप ऐसे ऐड देख सकते हैं। ऐसा तभी होगा, जब कोई अपने ऐड को उस शहर या लोकेशन के लिए टारगेट करे, जहां आप रहते हों।
इससे बचाव के लिए क्या करें?
       यह स्टेप काफी अहम है। फेसबुक को यह भी पता होता है कि उसकी साइट के अलावा कहीं और आप क्या करते हैं। अगर आप न्यूज़ वेबसाइट्स ज्यादा सर्फ करते हैं तो आपको न्यूज़ साइट्स के ऐड फेसबुक पर ज्यादा दिखेंगे। 
     अगर आप इसे रोकना चाहते हैं तो सबसे ऊपर ब्लू बॉर पर ताले (Lock) के आइकन (लाल घेरे में) पर क्लिक करें। See more settings पर (येलो हाईलाइट्स) क्लिक करें। 



इसमें लेफ्ट कॉलम में दिख रहे Ads पर क्लिक करें और फिर Ads based on my use of websites and apps पर जाएं। जहाँ अभी आपको क्लोज "Close" दिख रहा है क्योंकि मैंने क्लिक कर दिया है यहाँ पर आपको "Edit" लिख कर आएगा उस पर क्लिक करें और "Choose Setting" में जाकर इसे Off कर दें. 

Previous Post
Next Post

0 comments: