बुधवार, 31 जनवरी 2018

दीपिका, प्रियंका, श्रद्धा और कैटरीना का हुआ स्वयंवर, चुन लिये जीवनसाथी

स्वयंवर के बारे में तो आप जानते ही होंगे, सुना तो होगा ही। जब लड़कियां अपने लिये अपनी इच्छा से वर को चुनतीं थीं, और बाकायदा इसके लिये एक समारोह का आयोजन किया था। इस समारोह में विवाह योग्य युवती वहां मौजूद युवकों में से अपनी पसंद के युवक का जीवनसाथी के रूप में चयन करती थी। हमारे इतिहास में इस प्रकार के कई स्वयंवरों का वर्णन मिलता है जिनमें सबसे प्रमुख है रामायण में वर्णित सीता जी का स्वयंवर। 
इंसानों के स्वयंवर तक तो ठीक है लेकिन उत्तराखंड के टिहरी जिले का पंतवाड़ी गांव इस समय लोगों के बीच जबरदस्त चर्चा का विषय बना हुआ है, क्यों कि इस गांव में एक अनूठा स्वयंवर कराया गया है। अनूठा इस लिहाज से कि यहां पर यह स्वयंवर लड़कियों का नहीं बल्कि बकरियों का हुआ है। इस स्वयंवर का आयोजन गोट विलेज और ग्रीन पीपुल किसान विकास समिति नाम की संस्था के द्वारा कराया गया है।
ऐसे चुने बकरियों ने अपने जीवनसाथी
स्वयंवर में अलग-अलग गांवों से सज धज कर बकरे और बकरियां आये। इस स्वयंवर में एक बकरी को कई कई बकरों के साथ छोड़ा गया। इसके बाद जिस बकरी की दोस्ती जिस बकरे के साथ हुई उसी के साथ उसकी शादी करा दी गई। इस स्वयंवर के आयोजकों का कहना है कि अपनी तरह एक यह देश का पहला कार्यक्रम है। 
बकरियों और बकरों को दिये माॅडर्न नाम
समारोह में भाग लेनी वाली सभी बकरियों एवं बकरों को माॅडर्न नाम दिये गये थे। इस स्वयंवर में भाग लेने वाली बकरियों में सबसे ज्यादा चर्चा कैटरीना, श्रद्धा, करीना, दीपिका, प्रियंका आदि फिल्म अभिनेत्रियों के नामों वाली बकरियों की रही। इनमें दीपिका ने अपने जीवनसाथी के रूप में बैसाखू को चुना, तो कैटरीना ने चंदू को और प्रियंका ने टुुकनू को। 
कुछ भी हो यह स्वयंवर इस समय पूरे देश में सुर्खियां बटोर रहा है, अगर आपको भी इस खबर को पढ़कर मजा आया तो हमें फाॅलो करना कतई न भूलें, साथ ही अपनी राय और सुझाव हमें कमेंट करके जरूर बतायें। 

जियो जायेंगे भूल, अब यह कंपनी देगी 1 साल तक फ्री अनलिमिटेड डाटा और काॅलिंग

जबसे भारत में जियो ने पहले फ्री एवं बाद में बेहद सस्ती इंटरनेट सेवा का प्रारम्भ किया है, इंटरनेट प्रयोगकर्ताओं की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। साथ ही भारत डाटा खपत के मामले में दुनियां का नम्बर एक देश भी बन गया है। सस्ते इंटरनेट के कारण इंटरनेट से जुड़े विभिन्न प्रकार के रोजगार भी तेजी से पैदा हुये और हो रहे हैं। इसके अलावा जियो के आने के बाद अन्य सभी मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनियों को भी अपनी डेटा दरों में भारी कमी करनी पड़ी है। फिर भी अभी कोई कंपनी जियो के आॅफरों के आगे ठहर नहीं पा रही।
लेकिन अब एक कंपनी आयी है जियो से भी ज्यादा धमाकेदार आॅफर लेकर। जीं हां यदि आप स्मार्टफोन धारक हैं अथवा आप इंटरनेट का प्रयोग करते हैं तो यह खबर आपके लिये बहुत काम की साबित हो सकती है। क्यों कि अब एक कंपनी आपको अगले एक साल तक फ्री डाटा, काॅलिंग और एसएमएस की सुविधा देने जा रही है। वह भी फ्री सिम के साथ।
4 जी के साथ 3 जी फोन पर भी सर्पोट
जीं हां कुछ समय पहले ही भारत में आयी कंपनी तेजी से अपने उपभोक्ताओं को बढ़ाने के लिये इस प्रकार का आॅफर दे रही है। इस कंपनी के सिम की खास बात यह यह है कि यह 3जी फोन को भी सपोर्ट करेगा। इसके सिम को लेने के लिये आपको कहीं लाइन में लगने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। फिलहाल यह सिम भारत के कुछ राज्यों मंे ही उपलब्ध है। 
अगर चाहिये सिम तो कमेंट में लिखें अपना व अपने राज्य का नाम
यदि आप इस कंपनी की सिम को लेने के इच्छुक हैं तो कृप्या कमेंट बाॅक्स मंे अपना नाम, अपने शहर एवं प्रदेश का नाम जरूर लिखें। ताकि हम आपको आपके यहां इस कंपनी की सिम की उपलब्धता के बारे में जानकरी दे सकें। 

50 किलो की लड़की ने बनाये अपने 200 किलो बजनी प्रेमी के साथ संबंध तो हुआ यह हाल

लड़के लड़कियों का एक दूसरे को पसंद करना, प्यार करना और प्यार में संबंध बनाना पूरी दुनिया का काई भी देश हो, धर्म हो, रंग हो सभी में एक आम बात है। लेकिन कोई लड़की अपने प्रेमी से पहली बार संबंध बनाने के चक्कर में अस्पताल पहुंच जाये ऐसे किस्से कम ही सुनने को मिलते हैं। लेकिन आज हम जो घटना आपको बताने जा रहे हैं उसमें कुछ ऐसा ही हुआ। 
दरअसल एक 22 वर्षीय दुबली पतली लड़की को अपने से एक साल छोटे लेकिन 200 किलो वजन वाले ग्रेग नाम के लड़के से प्यार हो गया। आपस में मिलते जुलते उनकी नजदीकियां इतनी बढ़ गईं कि एक दिन दोनों में संबंध बनाने की नौबत आ गई। लड़की और लड़का दोनों ही इसके लिये काफी एक्साइटेड थे। दरअसल वह दोनों ही अभी तक वर्जिन थे और वह इस मौके को यादगार बनाना चाहते थे।
ऐसे में प्रेमी-प्रेमिका दोनांे ने ही अपने कमरे को अच्छे से सजाया। लेकिन जब संबंध बनाने की बारी आयी तो महज 50 किलो वजनी प्रेमिका अपनी 200 किलो के प्रेमी का वजन संभाल नहीं पायी और दीवार से जा टकरायी। दीवार से टकराने के बाद जहां प्रेमिका बेहाश हो गयी वहीं उसका प्रेमी इस चिंता में घबरा गया कि कहीं वह मर तो नहीं गई। हांलाकि कुछ देर बाद लड़की को जब होश आया तक प्रेमी महोदय की जान में जान आयी। 
खैर इसके बाद चोटिल प्रेमिका को अस्पताल ले जाया गया। जहां डाॅक्टरों ने उसका पूरी तरह से इलाज किया तब जाकर वह ठीक हुई। अस्पताल में प्रेमी को बताया गया कि यदि जा सी लापरवाही और की गई होती तो उसकी प्रेमिका की जान भी जा सकती है। ऐसे में हमारी सलाह यही है आगे से कृप्या ऐसे मौके पर वजन उठाने की अपनी क्षमता का अवश्य ध्यान रखें।

मंगलवार, 30 जनवरी 2018

लड़के की शादी तभी जब करे छः हत्यायें, ऐसी खौफनाक रीति है इस समुदाय की

जनपद फर्रुखाबाद के कायमगंज तहसील क्षेत्र के ग्राम कुबेरपुर में दो दिन पूर्व दो हत्याओं और डकैती की जांच पुलिस ने तेज कर दी है। यह बात और है कि पिछले कुछ दिनों से शायद ही कोई दिन ऐसा जाता हो जिस दिन अखबारों के पन्ने हत्या, चोरी, लूटपाट, राहजनी की बारदातों की खबरों से भरे न होते हों। कल मिलाकर योगी सरकार आने के बाद अपराधों से मुक्ति मिलने की आस लगाये लोगों में अब निराशा घर करने लगी है।
आपकी जानकारी के लिये बता दें कि गुरूवार की रात्रि सशस्त्र बदमाशों ने दो घरों पर धावा बोल कर दो लोगों की हत्या करने के बाद जमकर लूटपाट की थी। इस जघन्य कांड से पुलिस महकमे में हड़कम्प मचा हुआ है। जांच के लिये कई पुलिस टीमों का गठन किया गया है। कोतवाली कामयगंज की पुलिस जांच का केन्द्र बिन्दुु गांव कुबेरपुर को ही मानकर चल रही है।
बदमाशों को सुराग देने में कोई अपना या जानकार 
पुलिस एवं परिजनों का मानना है कि मदमाशों को पूरी सूचना देने के पीछे परिवार के किसी व्यक्ति अथवा किसी जानकार का हाथ हो सकता है। बदमाशों के साथ किसी ऐसे व्यक्ति के होने की पूरी संभावना है जिसे गृहस्वामी अच्छे से जानता हो। पुलिस उपाधीक्षक नरेश कुमार का कहना कि फिलहाल जांच चल रही है, अभी तक कोई खास सफलता नहीं मिली है।
छैमार गिरोह पर है आशंका
        पुलिस टीम को इस घटना के पीछे छैमार गिरोह के होने की पूरी आशंका है। बताया जाता है  िक इस गिरोह का उद्देश्य ही डाका डालने के बाद हत्या करने का होता है। लखनउ और अन्य कई शहरों में भी इस गिरोह के द्वारा इसी प्रकार डाका डालने के बाद हत्यायें की जाने की घटनायें की गईं हैं। एक दो दिन में प्रदेश में कई घटनाओं के मद्देनजर एसटीएफ ने भी अपनी सक्रियता बढ़ा दी है।
लड़के की शादी के लिये छः हत्यायें जरूरी
           छैमार गिरोह के बारे में माना जाता है कि इस गिरोह को लड़के की शादी करने के लिये छः लोगों की जान लेनी होती है। छः लोगों की हत्या के बाद ही शादी की रश्मे पूरी की जातीं हैं। इन लोगों की इसकी परवाह नहीं होती कि घटना के दौरान माल-जेवर मिलेगा कि नहीं। इनका उद्देश्य केवल शादी के लिये जान लेने का होता है। छैमार गिरोह की धरपकड़ के लिये लखनउ की स्पेशल सर्विलांस टीम ने भी जनपद फर्रुखाबाद में डेरा डाल दिया है। 

बुधवार, 24 जनवरी 2018

इन्हें देखकर आप मुस्कराये बिना नहीं रह सकेंगे

कभी कभी हम किसी कारण से उदास बैठे होते हैं या फिर हमारा मूड खराब होता है और ऐसे में हमारे व्हाट्सएप अथवा फेसबुक पर कोई ऐसी इमेज आ जाती है जिसे देखकर हम बरबस ही मुस्करा उठते हैं। आज मैं आपके लिये कुछ ऐसी ही इमेज लेकर आया हू, आशा है आपको यह पसंद आयेंगी और कुछ देर के लिये ही सही आपके चेहरे पर मुस्कराहट लाने में कामयाब होंगी।
इस दृश्य को देखकर तो यही लगता है कि इनके लिये बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ नहीं बजन घटाओ-बेटी बचाओ नारा ही ज्यादा सही है।



सड़क दुर्घनाओं के लिये ऐसे नजारे भी कम जिम्मेदार नहीं होते।




अब भला इनके हाॅस्टल में कोई क्यो नहीं रहेगा, जब यह इतनी बेहतरीन सुविधायें दे रहे हैं। इन्टरनेट तो फ्री है ही साथ में वाइफ भी मिलेगी, जानकारी करो अभी हाॅस्टल में कोई रूम खाली है क्या।




गर्लफ्रैन्ड को घुमाने में पेटोल फूंकने वालों के लिये बिल्कुल नेक सलाह है।



जल धारा तो फूट ही रही है, अब नल से नही तो न सही। पर मेहनत तो बर्बाद नहीं हुई।

मंगलवार, 23 जनवरी 2018

Mi 5-A की स्पेशिफिकेशन वाला फोन मात्र 3999 में


        इस समय भारतीय बाजार में एक के बाद एक स्मार्टफोन कंपनियों का आगमन हो रहा है। चीन की वीवो, ओप्पो, शाओमी, G-5 जैसी कंपनियां इस समय भारतीय बाजार में छायी हुईं हैं। ऐसी ही एक चीनी कंपनी है iVOOMi, जी हां यह कंपनी भी चाइना की ही कंपनी है और इस समय तेजी से भारतीय बाजार में अपने पैर पसार रही है। यह कंपनी अपने मोबाइलों को शाॅपक्लूज, फ्लिपकार्ट, अमेजन जैसी बेबसाइटों के माध्यम से भारतीय उपभोक्ताओं तक पहुंचा रही है।
iVOOMi ने एंट्री लेवल स्मार्टफोन की रेंज में काफी अच्छे उत्पाद पेश किये हैं। आज मैं आपको आईवूमी के एक ऐसे ही स्मार्टफोन के बारे में बता रहा हूं जिसकी कीमत तो मात्र 3999 रुपये है लेकिन स्पेशिफिकेशन Redmi 5A से काफी कुछ मिलती जुलती है। आइये जानते हैं इस फोन के बारे में।
iVOOMi Me-2
जीं हां, आई वूमी के इस माॅडल का नाम है मी-2। इस फोन में आपको 2 जीबी की रैम, 16 जीबी इंर्टनल मेमोरी, क्वाड कोर प्रोसेसर, 8 मेगापिक्सल का रियर कैमरा एवं 5 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा, 2000 एमएएच की बैट्री, ड्यअल 4 जी सिम सपोर्ट के साथ 4.5 इंच की स्क्रीन मिलती है। इसी के साथ इतनी कम कीमत में आईवूमी ने स्टाॅक एंड्राॅयड यानी एंड्राॅयड 7.0 नाॅगट आॅपरेटिंग सिस्टम भी बेहतर यूजर एक्सपीरियंस के लिये दिया है।
कुछ कमियां भी हैं
वैसे इस कीमत में यह एक अच्छा फोन हो सकता है। लेकिन कुछ कमियां भी है, जिन्हें यदि सुधार लिया जाता तो यह स्मार्टफोन निश्चित रूप से बेस्टसेलिंग स्मार्ट फोन बन सकता था।
स्क्रीन साइज: इस फोन का स्क्रीन साइज 4.5 इंच है। यदि स्क्रीन साइज 5 इंच होता तो ज्यादा बेहतर था।
बैट्री बैकअप: इस फोन में 2000 एमएएच की बैट्री दी गई है। लेकिन इसका बेकअप काफी कम है। फोन एक दिन भी कायदे से नहीं चल पता। रेगुलर यूजेज़ में फोन की बैट्री कुछ घंटे से ज्यादा का बेकअप नहीं देती।
 पैसा वसूल फोन
वैसा इस कीमत में इसे एक पैसा वसूल फोन कहा ही जा सकता है।
कहां मिलेगा?
यदि आप इस फोन को खरीदना चाहते हैं तो यहां (Buy Now) क्लिक करके इसे आॅनलाइन खरीद सकते हैं।

गुरुवार, 18 जनवरी 2018

अब व्हाट्स एप पर भी होगा पैसों का लेन-देन


मैसेंजिंग एप्लीकेशन व्हाट्सएप के डिजिटल पेंमेंट के क्षेत्र में आने की चर्चायें काफी दिनों से सुनी जा रहीं थीं। व्हाट्सएप अपनी एप्प में डिजिटल लेन-देन के फीचर्स जोड़ने पर लगातार काम कर रहा था। एक मीडिया रिर्पोट के अनुसार व्हाट्स एप फरवरी माह में अपनी इस सेवा को भारत में लांच कर सकता है। यानी अब व्हाट्स एप सिर्फ दोस्तों से चैटिंग के काम नहीं आयेगा बल्कि इस पर पैसों को लेन-देन भी हो सकेगा।

रिर्पोटस के अनुसार इस कार्य ने लिये व्हाट्सएप ने एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और स्टेट बैंक आॅफ इंडिया के साथ साझेदारी की है। एक बैंकिंग प्रतिनिधि इस खबर की पुष्टि करते हुये बताया कि अभी इस फीचर में सुरक्षा संबंधी कई मुद्दों पर कार्य करना है। क्यों कि हमारा लिये यूजर्स की सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण है। इस पर कुछ फाइनल रिजल्ट आते ही सेवा को प्रारम्भ कर दिया जायेगा।

मंगलवार, 9 जनवरी 2018

आसान से उपाय और कान का दर्द होगा उड़नछू

        वैसे तो दर्द कहीं भी हो यह हमेशा कष्टकारी ही होता है, लेकिन कान का दर्द जब होता है तो बेहाल कर देता है। वैसे भी कान में दर्द की शिकायत ज्यादातर बच्चों को होती है, ऐसे में बच्चे रो-रोकर पूरा घर सिर पर उठा लेते हैं। कभी-कभी देर रात जब कान का दर्द शुरू होता है, तो समझ ही नहीं आता कि आखिर क्या किया जाये।
कान के दर्द के इलाज के बारे में जानने से पहले यह जानना काफी जरूरी है कि आखिर कान में दर्द हो क्या रहा है? कान दर्द के कई कारण हो सकते हैं जिनमें प्रमुख हैं :-
  • कान में मैल जमा होना
  • कान के अंदर किसी कीड़े का घुस जाना
  • कान में इन्फेक्शन अथवा किसी प्रकार की इलर्जी का होना
  • किसी नुकीली चीज से कान में खुजली करना
  • कान के अन्दर पानी चला जाना
  • सर्दी जुकाम होना

ऐसे में इलाज और घरेलू नुस्खे का उचित चयन करने से पहले हम जरूर जानें कि दर्द का कारण क्या है, उसी के अनुसार नुस्खे का प्रयोग करें। 
आइये जानते हैं कि कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में जिनका प्रयोग कर कान के दर्द को चुटकियों में दूर भगायाा जा सकता है, और इनमें से ज्यादातर वस्तुयें आपके अपने घर में, रसोई में आपको आसानी से मिल जायेंगीं।
  1. तुलसी के पत्तों को पीस लें और उसके रस की कुछ बूंदें को दिन में दो तीन बार कान में डालने से कान का दर्द तो दूर होता ही है, साथ ही यदि किसी प्रकार का कोई इन्फेक्शन है तो वह भी समाप्त हो जाता है।
  2. मेथी के दाने सरसों के तेल में गरम करें और ठंडा करने के बाद इस तेल को कान में डालें, इससे कान दर्द में तुरंत आराम मिलता है।
  3. अपने एंटीबायोटिक और एंटीसेप्टिक गुणों के कारण लहसुन भी कान दर्द और इंफेक्शन दूर करने में काफी मददगार होता है। सरसों के तेल में लहसुन की दो से तीन कलियों को पीस कर गरम करें, और फिर उस तेल को कपड़े से छान कर ठंडा करके कान में डालें। इससे कान के दर्द में तत्काल राहत मिलती है।
  4. नीम के पत्तों को रस कान में डालने से सभी प्रकार का इंफेक्शन दूर होता है, कान के लिये यह एक श्रेष्ठ आयुर्वेदिक औषधि है।
  5. कान के दर्द से छुटकारा पाने के लिये प्याज का रस भी एक प्रभावी औषधि है। एक चम्मच प्याज का रस गुनगुुना करके इसकी कुछ बूंदे कान में डालने से दर्द में आराम मिलता है।
  6. सर्दियों में ठंड की वजह से भी कान में दर्द होने लगता है, ऐसे में गरम पानी किसी बोतल में भरकर उस पर कोई कपड़ा अथवा तौलिया लपेट दें। इससे कान की सिकाई करें, इस उपाय से सर्दी से होने वाले कान के दर्द में राहत मिलती है।